स्वागत है हमारे प्रेरणा शोध में

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान ने अपनी स्थापना के तीन वर्षों की अल्पकालिक यात्रा में ही जनसंचार व पत्रकारिता के शिक्षण क्षेत्र में आशातीत प्रगति की हंै। शिक्षण, प्रशिक्षण व संवाद के क्षेत्र में तकनीकी तथा व्यावहारिक रूप से सुदृढ़ मीडिया कर्मियों को तैयार करने के अपने उद्देश्य में संस्थान उत्तरोत्तर प्रगति पथ पर अग्रसर है। संस्थान सूचना एवं तकनीकी से जुड़े क्षेत्र में कौशलयुक्त शिक्षा प्रदान कर शिक्षार्थियों को वैश्विक स्तर पर प्रतिस्पर्धा के योग्य बनाने को संकल्पित है। उत्तर प्रदेश राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय इलाहाबाद से संबद्धता प्राप्त संस्थान 39 रोजगारपरक व संव्यावसायिक कार्यक्रमों का संचालन कर रहा है।

कार्यक्रम

शोक सभा

Prerna Shodh

प्रेरणा शोध संस्थान में देश के भूतपूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक सभा का आयोजन कर दिवंगत आत्मा के प्रति अश्रुपूरित श्रद्धांजलि अर्पित की गई।
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के उत्तर प्रदेश और उत्तराखण्ड के संयुक्त क्षेत्र प्रचार प्रमुख श्री कृपाशंकर जी ने अपने भाव सुमन अर्पित करते हुए कहा कि वे आजीवन राजनीति में कर्तव्यनिष्ठा तथा शुचिता के पर्याय बने रहे। उनके जैसा अनुकरणीय व्यक्तित्व बिरले ही जन्म लेता है। वे भारतीय राजनीति तथा समाज के लिए सदैव प्रेरणा स्रोत बने रहेंगे तथा भावी पीढ़ियां उनके निर्देशों का पालन कर राष्ट्र सेवा की दिशा में आगे बढेंगे। उनका जाना राष्ट्र व समाज के लिए गहरी क्षति है। उनके निधन की रिक्तता को भरा नहीं जा सकता।
श्रद्धांजलि सभा में महानगर संघचालक मधुसूदन दादू, सह विभाग कार्यवाह विनोद कौशिक, विभाग प्रचारक विनय जी, महानगर कार्यवाह सत्येन्द्र जी, विभाग प्रचार प्रमुख डा. अनिल त्यागी, प्रेरणा संस्थान के समन्वयक प्रभाकर कुमार वर्मा, सचिव रवि श्रीवास्तव, आयाम प्रमुख अजय तोमर, यूपीआरटीओयू की क्षेत्रीय निदेशक डा. कविता त्यागी, वीरेन्द्र पोखरियाल, राम सेवक, आदित्य देव त्यागी, अजय तिवारी समेत प्रेरणा परिवार के सभी सदस्यों ने भूतपूर्व प्रधानमंत्री के निधन पर गहरा शोक प्रकट करते हुए विन्रम श्रद्धांजलि अर्पित की।

हम क्या करते हैं

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान कम से कम शुल्क में मीडिया से जुड़े शिक्षा प्रदान करता है |

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान आधुनिक कैंपस प्रदान करता है जिससे की वहाँ के विद्यार्थी का विकास अच्छे से हो सके, जिस से की वो आधुनिक भारत के इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से कदम से कदम मिला के आगे बढ़ सके|

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान भब्य मंच देता है जिस से की वहाँ के विद्यार्थी अपने विचारो का आदान प्रदान भब्य स्तर पर कर सके, और अपने विचार को देश विदेश में फैला सके|

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान सर्वश्रेष्ठ संकाय प्रदान करता है अपने विद्यार्थी को ताकि उनको अच्छी से अच्छी शिक्षा प्रदान करा सके, एवं उनका मानसिक विकास अच्छे से हो |

18
संकाय
32
कोर्स
250
विद्यार्थी
35
अनुभवी शिक्षक

हमारी टीम

प्रेस विज्ञप्ति

हम बहुत मददगार हैं

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान संस्थान सूचना एवं तकनीकी से जुड़े क्षेत्र में कौशलयुक्त शिक्षा प्रदान कर शिक्षार्थियों को वैश्विक स्तर पर प्रतिस्पर्धा के योग्य बनाने को संकल्पित है। उत्तर प्रदेश राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय इलाहाबाद से संबद्धता प्राप्त संस्थान 39 रोजगारपरक व संव्यावसायिक कार्यक्रमों का संचालन कर रहा है। इसमें कम्प्यूटर एप्लीकेशंस, लाइब्रेरी साइंस, पत्रकारिता, जनसंचार, फिल्म प्रोडक्शन, फोटोग्राफी, कैरियर काउंसलिंग, आपदा प्रबंधन, शिशु पोषण व आहार जैसे विविध विषयों में स्नातकोत्तर, स्नातक, पी. जी. डिप्लोमा, प्रमाण पत्र, डिप्लोमा तथा कुछ जागरूकता कार्यक्रम करता है।

कॉल करें

0120–2400335

हमारेलेख

दिलों में गूंजती ‘स्वर कोकिला’

भारतरत्न, लता मंगेशकर की आवाज की दीवानी पूरी दुनिया है। आज संगीत की पूरी दुनिया उनके आगे नतमस्तक है।

राष्ट्रीय पुनर्जागरण के शिल्पी डा. हेडगेवार

चैत्र शुक्ल प्रतिपदा की अनेक महत्त्वपूर्ण स्मृतियों में एक अन्य घटना संवत्1946 शालिवाहन शाके 1811 को डा. केशव बलिराम हेडगेवार ।

लोकतंत्र भारत का स्वभाव

भारत में हिन्दू बहुसंख्यक हैं। भारत की जो मुख्यधारा है, वह लोकतांत्रिक है। इस समाज का स्वभाव लोकतांत्रिक है ।