गतिविधि

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान ने अपनी स्थापना के तीन वर्षों की अल्पकालिक यात्रा में ही जनसंचार व पत्रकारिता के शिक्षण क्षेत्र में आशातीत प्रगति की हंै। शिक्षण, प्रशिक्षण व संवाद के क्षेत्र में तकनीकी तथा व्यावहारिक रूप से सुदृढ़ मीडिया कर्मियों को तैयार करने के अपने उद्देश्य में संस्थान उत्तरोत्तर प्रगति पथ पर अग्रसर है। संस्थान सूचना एवं तकनीकी से जुड़े क्षेत्र में कौशलयुक्त शिक्षा प्रदान कर शिक्षार्थियों को वैश्विक स्तर पर प्रतिस्पर्धा के योग्य बनाने को संकल्पित है। उत्तर प्रदेश राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय इलाहाबाद से संबद्धता प्राप्त संस्थान 39 रोजगारपरक व संव्यावसायिक कार्यक्रमों का संचालन कर रहा है। इसमें कम्प्यूटर एप्लीकेशंस, लाइब्रेरी साइंस, पत्रकारिता, जनसंचार, फिल्म प्रोडक्शन, फोटोग्राफी, कैरियर काउंसलिंग, आपदा प्रबंधन, शिशु पोषण व आहार जैसे विविध विषयों में स्नातकोत्तर, स्नातक, पी. जी. डिप्लोमा, प्रमाण पत्र, डिप्लोमा तथा कुछ जागरूकता कार्यक्रम मुख्य हैं। तकनीकी ज्ञान में निपुणता हेतु प्रयोगात्मक शिक्षण तथा प्रशिक्षण पर विशेष बल दिया जाता है। वर्ष भर पाठ्यक्रम सहगामी गतिविधियों का आयोजन किया जाता है। छात्रों में अभिभाषण कला, मंच संचालन, विविध सम-सामयिक विषयों पर मजबूत पकड़ को दृष्टिगत रखते हुए भाषण, सेमिनार, पत्रकारिता विद्यार्थी संगोष्ठी, वाद- विवाद प्रतियोगिता, परिचर्चा, साक्षात्कार तथा प्रेस कांफ्रेंस अभ्यास आदि का नियमित आयोजन किया जाता है।

प्रेरणा शोध यू-ट्यूब चैनल

प्रेरणा शोध का मुख्य उद्देश्य समाज जागरण, समाज प्रबोधन के विभिन्न विषयों को परिचर्चा, साक्षात्कार तथा वीडियो क्लिपिंग के माध्यम से समाज के सामने लाना है, जिससे सभी लोग प्रेरित हो सकें। नवीनतम परिवर्तनों, चुनौतियों तथा समस्याओं पर विषय विशेषज्ञों, चिंतकों तथा समीक्षकों के मतों तथा सुझावों को साक्षात्कार के माध्यम से जनोपयोगी बनाना है। दृश्य श्रव्य कक्ष में इन वीडियो क्लिपों को यू-ट्यूब पर डाउनलोड किया जाता है। जिससे समाज आवश्यकतानुसार इनका लाभ उठा सके।

बौद्धिक विचार विनिमय

इस प्रकोष्ठ की प्रथम कार्यशाला 26 अक्टूबर 2016 को स्वेदशी विचार एवं व्यवहार विषय पर आयोजित की गई। मुख्य वक्ता श्री अखिलेश मिश्र, एसोसिएट प्रोफेसर, एस.डी. पी जी काॅलेज गाजियाबाद एवं श्री आदर्श धवन, स्वदेशी चिन्तक एवं अर्थक्रांति के राष्ट्रीय सदस्य हैं। विद्वानों ने इस विषय पर अपने वक्तव्य में पाश्चात्य व्यवस्था के अंधानुुकरण के विकल्प को रोकने के लिए आचार विचार में स्वदेशी को अपनाने एवं स्वदेशी उत्पादन की पुरजोर वकालत की। कार्यक्रम की अध्यक्षता डा. अनिल त्यागी ने की। द्वितीय कार्यशाला 26 नवम्बर 2016 को मीडिया एवं राष्ट्रीय सुरक्षा में मुख्य रूप से भारत, पाकिस्तान व अफगानिस्तान सीमा समस्या पर आयोजित की गई इस विषय पर दो विद्वान वक्ताओं बिग्रेडियर (रिटा.) डा. राजबहादुर शर्मा, सदस्य भारतीय राष्ट्र सहयोग आयोग तथा प्रसिद्व पत्रकार एवं नेशनल बुक ट्रस्ट के अध्यक्ष श्री बल्देव भाई शर्मा ने अपने विचार रखे। विचार गोष्ठी विमुद्रीकरण के वर्तमान एवं दूरगामी हित दिनांक 31 दिसम्बर 2016 को आयोजित की गई। इस विषय पर मुख्य रूप से श्री अखिलेश मिश्र, श्री रोहित वासवानी एवं श्री आदर्श धवन जी ने विस्तार से विमुद्रीकरण के बारे में श्रोताओं को बताया। विद्वानों का मत था कि विमुद्रीकरण से देश में औद्योगिक क्षेत्र का विकास होगा तथा भ्रष्टाचार एवं सामान्तर अर्थव्यवस्था पर गहरी चोट होगी। जिसका लाभ दीर्घकाल में देश के नागरिकों को व्यापक रूप से प्राप्त होगा।

मासिक कार्यषालाएं

प्रेरणा संस्थान न केवल शिक्षा के प्रसार व प्रचार के विविध आयामों को प्रोत्साहित करने का एक अग्रणी संस्थान है। परन्तु संस्थान पांच वर्गों मंे बौद्धिक विचार विमर्श एवं विचारों के मंथन हेतु विविध विषयों पर मासिक कार्यशालाएं सतत रूप से आयोजित करता है। यह पांच उपवर्ग निम्नवत है। (प्) बौद्धिक कार्यशाला (पप) महिला संवाद कार्यशाला (पपप)पत्रकार महापुरुष जयन्ती (पअ) पत्रकारिता छात्र कार्यशाला (अ) इलेक्ट्राॅनिक मीडिया कार्यशाला

पुस्तकालय व वाचनालय

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान में एक वृहद पुस्तकालय व वाचनालय स्थापित किया गया है। समृद्ध पुस्तकालय में संघ साहित्य, धार्मिक, सामाजिक, राजनैतिक, आर्थिक, पर्यावरण, शिक्षा जगत, पत्रकारिता व जनसंचार तकनीकी आदि विविध क्षेत्रों तथा विषयों की पर्याप्त पुस्तकें उपलब्ध हैं। पाक्षिक, मासिक, त्रैमासिक तथा वार्षिक अंतराल पर प्रकाशित होने वाली लगभग 100 पत्रिकाएं तथा आधा दर्जन दैनिक समाचार पत्र भी उपलब्ध हैं। पुस्तकालय से सम्बद्ध वातानुकूलित वाचनालय के शांत वातावरण में जिज्ञासु अपने ज्ञानार्जन में लगे रहते है। विशिष्ट आयोजन हेतु साउंड तथा प्रोजेक्टर की सुविधा भी प्रदान की जाती है। विशेष परिस्थितियों में अतिथि कार्ड, सदस्यता कार्ड तथा विद्यार्थी परिचयपत्र के आधार पर पुस्तकालय से पुस्तकों का लाभ भी उठाया जा सकता है।

शाॅर्ट टर्म पाठ्यक्रम

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान, टी. वी. जर्नलिज्म एंड वीडियो प्रोडक्शन, वीडियो एडिटिंग, प्रिंट प्रोडक्शन, डेस्क टॉप पब्लिशिंग तथा कम्युनिकेशन स्किल एंड पर्सनालिटी डेवलपमेंट जैसे रोजगारपरक पाठ्यक्रमों का भी संचालन कर रहा है। पाठ्यक्रम का निर्धारण मुख्य रूप से शिक्षार्थियों के साथ ही सरकारी तथा गैरसरकारी क्षेत्रों के ऐसे सेवाकर्मियों को ध्यान में रखकर किया गया है जो तकीनीकी कौशल तथा व्यावसायिक शिक्षा के इच्छुक हों। कक्षाओं का संचालन तीन पालियों में किया जाता है जिससे शिक्षार्थी अपनी सुविधानुसार ज्ञानार्जन का अधिकतम लाभ उठा सकें। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के प्रि प्रोडक्शन, प्रोडक्शन तथा पोस्ट प्रोडक्शन चरणों के सर्वांगीण ज्ञान हेतु पटकथा लेखन,साक्षात्कार, न्यूज रीडिंग, न्यूज एंकरिंग, पीटीसी, रिपोर्टिंग, कैमरा हैंडलिंग, लाइटिंग, स्टूडियो अभ्यास, फ्लोर प्लान्स तथा अत्याधुनिक संपादन सॉफ्टवेयर पर संपादन, डबिंग, वॉइस ओवर, साउंड मिक्सिंग आदि का नियमित अभ्यास कराया जाता है। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के विभिन्न पहलुओं की समझ तथा तकनीकी प्रशिक्षण को लक्ष्य रखकर पाठ्यक्रमों का सैद्धांतिक व व्यावहारिक निर्धारण किया गया है।

नागरिक पत्रकारिता प्रषिक्षण

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान वर्तमान समय को सोशल मीडिया का दौर कहा जाता है। ऐसे में नागरिक पत्रकारिता का महत्व और अधिक बढ़ जाता है। क्योंकि जागरूक नागरिक ही लोकतंत्र का प्राण होता है। इस दृष्टि से नागरिक पत्रकारिता समाज की जरूरत है। जन सामान्य में सम सामयिक विषयों पर तार्किक व प्रभावी लेखन क्षमता को विकसित करने तथा नागरिक पत्रकारिता के प्रसार के लिए संपादक के नाम पत्र लेखन, समाचार प्रस्तुतीकरण, प्रेस विज्ञप्ति लेखन, आलेख लेखन, यात्रावृत्त लेखन, समीक्षा लेखन, सोशल मीडिया लेखन आदि पर आधारित कार्यशालाओं का समय समय पर आयोजन करता है। प्रतिभागियों की शोध क्षेत्र में अभिरुचि व उन्नयन तथा कैरियर संवर्धन हेतु विविध सम-सामयिक विषयों पर संगोष्ठियों तथा कार्यशालाओं का निरंतर आयोजन किया जाता है। संस्थान प्रतिभागियों को सर्वांगीण विकास के असीमित अवसर प्रदान करता है। मीडिया जगत में विशिष्ट पहचान रखने वाले विशेष़़़ज्ञ प्रतिभागियों का मार्गदर्शन व उत्साहवर्धन करते हैं । मीडिया जगत के अनुभवी पत्रकारों व तकनीकी विशेषज्ञों के सुझावों पर अमल करके प्रशिक्षु विविध क्षेत्रों में पर्याप्त कुशलता के साथ स्वंय को स्थापित करते हैंै। कार्यशालाओं की एक महत्वपूर्ण विशेषता यह भी रही कि ये सभी परस्पर संवाद पर आधारित थी। युवाओं ने इन कार्यशालाओं में बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया।

विभिन्न कार्यषालाएं

जन सामान्य का पत्रकारिता के सामाजिक सरोकारों से परिचय कराने के क्रम में संस्थान समय-समय पर पत्रकारिता प्रशिक्षण वर्ग का आयोजन करता है। आयोजन का मुख्य उद्देश्य पत्रकारिता व जनसंचार के क्षेत्र में जन सहभागिता है, जिसमें अपने आस-पास मौजूद संचार साधनों का उपयोग समाज तथा राष्ट्रहित में करने का प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। पत्रकारिता व जनसंचार क्षेत्र के ख्याति प्राप्त विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में लेखन अभिव्यक्ति, समाचार सम्प्रेषण, विज्ञप्ति लेखन, ब्लाॅग लेखन, नागरिक पत्रकारिता, साक्षात्कार, फोटो पत्रकारिता, सोशल मीडिया के उपयोग जैसे विविध विषयों पर कौशल प्रदान किया जाता है। प्रशिक्षण का लाभ उठाकर सामान्य नागरिक भी राष्ट्र के जागरूक प्रहरी के रूप में अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने में सक्षम होते हैं। रेडियो परिचर्चा, रेडियो वार्ता, समूह चर्चा, पैनल डिस्कशन में प्रशिक्षण वर्ग प्रतिभागियों को व्यक्तित्व विकास का प्रेरणादायी अवसर तथा मंच प्रदान करता है। कार्यशालाओं के माध्यम से संस्थान के विद्यार्थियों के अतिरिक्त विभिन्न मीडिया संस्थानों के शिक्षार्थियों ने भी ज्ञान लाभ अर्जित किया। कार्यशाला के माध्यम से प्रतिभागियों को अपने विचार रखने का अवसर प्राप्त हुआ।

प्रत्रकार प्रतिभा खोज परीक्षा

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान, नोएडा, ग्रेटर नोएडा तथा गाजियाबाद के महाविद्यालयों व विश्वविद्यालयों में पत्रकारिता व जनसंचार के विभिन्न पाठ्यक्रमों में अध्ययनरत छात्रों के मध्य ‘पत्रकार प्रतिभा खोज परीक्षा का आयोजन प्रतिवर्ष करता है। इस वर्ष सभी विषयों के छात्रों को भी आयोजन में प्रतिभाग करने का अवसर दिया गया। परीक्षा के माध्यम से संस्थान एक ओर जहाँ पत्रकारिता व जनसंचार तथा अन्य विषयों के छात्रों को आत्मावलोकन का अवसर प्रदान करता है वहीं पारस्परिक प्रतिस्पर्धा का उपयुक्त मंच भी प्रदान करता है। राजनीतिक, आर्थिक, सामाजिक व धार्मिक गतिविधियां, राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार, समसामयिक घटनाक्रम एवं पत्रकारिता जगत से जुड़े विषयों पर आधारित इस परीक्षा में शीर्ष स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को संस्थान पुरस्कृत भी करता है। आयोजन में प्रतिभाग करने वाले समस्त प्रतिभागियों को उनकी रूचि के अनुकूल व्यक्तित्व परिष्कार के अवसर भी प्रदान किये जाते हैं।

पत्रकार होली मिलन समारोह

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान प्रतिवर्ष प्रेम व सौहार्द के पर्व होली के उपलक्ष में पत्रकार होली मिलन समारोह का आयोजन करता रहा है। सामाजिक सहभागिता के उद्देश्य को दृष्टिगत रखते हुए आयोजन में प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार साथियों के साथ सम्मिलित रूप से पर्व का आनंद उठाया जाता है। चन्दन, गुलाल, अबीर और फूलों के साथ पारस्परिक सामंजस्य को प्रगाढ़ता प्रदान की जाती है। पत्रकार बंधु गीत, कविता पाठ और लोकगीतों के माध्यम से आयोजन को आकर्षक व मनोहारी स्वरुप में ढाल देते हैं। आपसी सरोकारों को सुदृढ़ बनाने के क्रम में आयोजन अपना महत्त्वपूर्ण स्थान रखता है।

प्रेरणा फिल्म फेस्टिवल

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान, नोएडा, ग्रेटर नोएडा व गाजियाबाद स्थित पत्रकारिता से सम्बद्ध संस्थानों, महाविद्यालयों तथा विश्वविद्यालयों में अध्ययनरत छात्रों को प्रतिभा प्रदर्शन हेतु मंच प्रदान करने के उद्देश्य से समय-समय पर प्रेरणा फिल्म फेस्टिवल का आयोजन करता है। कार्यक्रम में शिक्षा, स्वास्थ्य, योग,पर्यावरण, गरीबी, राष्ट्रीय समरसता,कुरीति उन्मूलन जैसे सामाजिक सरोकारों से जुड़े विविध विषयों पर वृत्तचित्र तथा लघु फिल्म श्रेणियों में प्रतिभागी अपनी प्रविशिष्टियों के माध्यम से विषय प्रस्तुत करते हैं। फिल्म निर्माण क्षेत्र से जुड़े ख्यातिप्राप्त विशेषज्ञ नवोदित फिल्मकारों की प्रस्तुतियों का अवलोकन कर अपने बहुमूल्य सुझावों से उनका मार्गदर्शन भी करते हैं। संस्थान आयोजन में शीर्ष स्थानों पर चयनित प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी करता है। वर्ष 2016 में आयोजित कार्यक्रम में पंद्रह प्रतिभागियों ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। संस्थान में तीन स्थलों पर फिल्मों तथा वृत्तचित्रों का प्रदर्शन किया गया जिसमें भरी संख्या में दर्शकों ने छात्रों के प्रयासों की भूरी-भूरी सराहना की। फिल्म सेंसर बोर्ड की पूर्व सदस्य श्रीमती नीता गुप्ता व शोध छात्र श्री यशार्थ मंजुल ने विशेष सत्र में सभी प्रतिभागियों से सीधा संवाद करते हुए उनकी शंकाओं का समाधान भी किया। समापन ए वं पुरस्कार सत्र में श्री के. जी. सुरेश, महानिदेशक, आईआईएमसी, श्री जे. नंद कुमार, अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख, रा. स्व. संघ, श्री संदीप मारवाह, अध्यक्ष, मारवाह स्टूडियो, फिल्म सिटी, नोएडा का विशिष्ट सानिध्य प्राप्त हुआ। कार्यक्रम का संचालन लोकसभा टी. वी. एंकर श्री रामवीर श्रेष्ठ ने किया।

पत्रकार संगोष्ठी

मासिक गोष्ठी की इसी श्रृंखला में संस्थान में ख्यातिप्राप्त पत्रकार भी निरंतर चर्चा, विचार विमर्श करते रहते हैं। पत्रकारिता से जुड़े विभिन्न विषयांे व पत्रकारों की जन्मतिथि व पुण्यतिथि पर संगोष्ठी आयोजित की जाती है।

पत्रकार महापुरूश जयंती

मासिक गोष्ठी की इसी श्रृंखला में संस्थान में ख्यातिलब्ध पत्रकार भी निरंतर चर्चा, विचार विमर्श करते रहते हैं। पत्रकारिता से जुड़े विभिन्न विषयांे व पत्रकारों की जन्मतिथि व पुण्यतिथि पर संगोष्ठी आयोजित की जाती है।

केशव संवाद

प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान मासिक पत्रिका ‘केशव संवाद’ का प्रकाशन करता है। पत्रिका के प्रकाशन का उद्देश्य प्रतिपल क्षीण होते पत्रकारिता के मूल उद्देश्यों की पुनस्र्थापना करना है। पत्रिका राष्ट्रवाद, हिन्दुत्व व सामाजिक जागरण को स्वर प्रदान कर सकारात्मक अवधारणा को बल प्रदान करती है।

महिला संवाद कार्यषाला

संस्थान में महिला केन्द्रित विषयों पर भी मासिक कार्यशाला व संगोष्ठी सतत रूप से की जा रही है। इस विषय पर महिला विषयों एवं समस्याओं पर समाज के विभिन्न क्षेत्रों की विदुषी वक्ताओं का सानिध्य प्राप्त होता रहता है। 8 मई 2016 को पहली संगोष्ठी में सामाजिक समरसता में महिलाओं की भूमिका विषय पर हुई। जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में डा. जसपाली चैहान, दिल्ली विश्वविद्यालय मौजूद थीं। दूसरी महिला संवाद कार्यशाला रानी पद्मावती विषय पर आयोजित की गई जिसमें फिल्म जगत द्वारा ऐतिहासिक तथ्यों के साथ खिलवाड़ करने को लेकर गहन चर्चा की गई। आयोजन में मुख्य वक्ता के रूप में डा. मधु पोद्दार उपस्थित रहीं।